You are currently viewing साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय
साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय

साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय

साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय

 

अभी इस समय विद्यार्थी और उनके माँ बाप बहुत ज़्यादा परेशान हो रहे हैं क्योंकि इस बार परीक्षाओं का समय कुछ लंबा चला गया है और चिंता होना भी स्वाभाविक है क्योंकि अभी तक कोई निश्चित समय परीक्षा का दिया नहीं गया था

साल 2020 के लिए एक अनाउंसमेंट हुई है कि जुलाई में परीक्षा होगी, सरकार ने 26 जुलाई को NEET 2020 परीक्षा आयोजित करने की तिथि दी है, जुलाई में ही JEE MAINS का एग्ज़ाम कराने की भी DATE  दी है जो कि 18,20,21,22,23 जुलाई को होगा, JEE ADVANCE अगस्त में होगा जिसकी तारीख़ बाद में दी जाएगी जो कि मेडिकल और इंजीनियरिंग के स्टूडेंट्स के लिए की बहुत बड़ी राहत भरी ख़बर है

तो इसी को देखते हुए मैं ये कुछ कुछ टिप्स देने जा रही हूँ जो अगर आप अपनाएंगे तो आप चिंता मुक्त रहकर पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित कर सकते है

परीक्षा से पहले या उसके दौरान कुछ चिंता होना पूरी तरह से सामान्य है, कुछ छात्रों को चिंता दुर्बलता लगती है। परीक्षा की चिंता में आपकी सारी मेहनत चिंता करने में चली जाती है

साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय
साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय
1.  डर को क़ाबू में करना 

हम अपना ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते किताबों से दूर भागना चाहते हैं बस सिर दर्द की शिकायत हो जाती है कुछ खाने पीने का मन नहीं करता
डर मन की स्थिति से ज्यादा कुछ नहीं है, इसलिए सब कुछ का सामना करें और उठें। परीक्षा की तैयारी के दौरान अगर आप बहुत ज्यादा घबराहट महसूस कर रहे हैं, तो लिखना बंद कर दें और एक तरीका आजमाएं। मन को आसान प्रश्नों की तरफ़ मोड़ना शुरू करे और यदि आपको पढ़ते हुए परेशानी हो रही है तो आपको लिखित काम में चले जाइए अवश्य ही आपको इसमें सहायता मिलेगी

2.  अपने दिमाग को आप नियंत्रित करे हैं या यह आपको नियंत्रित करेगा
अपनी चिंता पर अपना ध्यान केंद्रित करना शुरू करे और शरीर के उस भाग पर ध्यान केंद्रित करने की एक मिनट के लिए कोशिश करें जो हिस्सा सबसे अधिक प्रभावित होगा उसका आपको स्वयं ही पता लग जाएगा पता है आपको चिंता पर ध्यान केंद्रित करना है ताकि आप इसे नियंत्रित कर सकते हैं और ख़ुद को रिचार्ज कर सकेंगे

3.  योग के हिसाब से गहरी साँसें लेना शुरू करें
जब जब आपके ऊपर परेशानी या चिंता ज़्यादा हावी हो रही है तो थोड़ी देर के लिए किताबें बंद कर दे और ध्यान की अवस्था में बैठकर गहरी साँस ले और अपना ध्यान आती जाती सांसों पर केंद्रित करें अगर ये आप नहीं  कर पा रहे तो अपने माता पिता या भाई बहन से बात करें ताकि वो आपको गहरी साँसें दिलवाने में सहायता करें
4.  ख़ुद से बात करें, मन में उठते विचारों पर ध्यान दे

जब आपको लगे कि आप पढ़ते पढ़ते चिंताग्रस्त हो गए हैं और आपको नहीं समझ में आ रहा क्या आप क्यों इतनी चिंता कर रहे हैं कि आपकी तैयारी भी पूरी हैं तो अपने विचारों पर ध्यान दें और देखें कि चिंता किस वजह से आ रही है क्या आपका आत्मविश्वास डगमगा रहा है जब आप चिंता का कारण समझ लेंगे तो स्टॉप कहकर ख़ुद पर चिल्लाये ताकि उस विचार को आप तेज़ी से बाहर कर पाएँ क्योंकि हमारे दिमाग़ में इतनी क्षमता है कि हम नकारात्मक विचारों की बड़े आराम से दिशा परिवर्तन कर सकते हैं
5.  कुछ समय के लिए अपना ध्यान मनोरंजक कार्य में लगाए

कभी कभी हम पढ़ते पढ़ते हैं इतने बोर हो जाते हैं और हमारा पढ़ाई से मन उठना शुरू हो जाता है हम पढ़ना तो चाहते हैं पर हमारे दिमाग़ में कहीं न कहीं चिंता भी लगी होती है और परिवार का भी  प्रेशर होता है पढ़ने का तो कुछ समय के लिए उठकर कोई ऐसे कार्य करें डान्स करना संगीत सुनना या जो आपको पसंद है ताकि आप जब कुछ अपनी रुचि का मनोरंजक कार्य कर लेंगे तो आपका दिमाग़ और मूड दोनों में फ़्रेश हो जाएँगे और आप उसके बाद पढ़ाई पर पूरा ध्यान दे पाएंगे

बच्चों के माता पिता से भी आग्रह हैं इस समय बच्चों के साथ रहे और उनके ख़ान पान उनकी सेहत का पूरा ध्यान रखें और उनके बदलते मूड को पर भी नज़र रखे बच्चों की हर हाल में सहायता करें उसके ऊपर किसी तरह का प्रेशर न आने दे

और साल 2020 में परीक्षा की चिंता को दूर करने के पाँच उपाय आपकी जरुर मदद करेंगे